Help Premlal To Open A Grocery Shop For His Family's Livelihood

# Employment & Business Opportunities ,
  • Days

    13 days left

  • 0+

    Suppoters

Help Premlal To Open A Grocery Shop For His Family's Livelihood

एक छोटा सा प्रयाश मानवता के लिए जरूरी है| ग्राम करखेड़ी अखोडी, घनसाली  के निवासी प्रेमलाल ने हम ओर आप सब से एक छोटी सी मदद माँगी है, 

  • Description
  • Documents
  • Updates

गाँव - करखेडी, घनसाली, टिहरी गढवाल निवासी प्रेमलाल जी दिल्ली मे छोटी मोटी नौकरी करते थे और लम्बे समय तक दिल्ली मे काम किया लेकिन जब तबियत खराब हुई थी सब कुछ छोडकर गाँव आ गये और गाँव मे ही ध्याडी मजदूरी करके अपना गुजर-बसर कर रहे थे, लेकिन लंबी बीमारी के चलते  वो  अपने परिवार व अपने चार नाबालिग बच्चों का पालन पोषण करने में असमर्थ हैं । 

बच्चे अभी नाबालिक है और घर मे कमाने वाला कोई नही है, प्रेमलाल जी की तबियत भी दिन प्रतिदिन और खराब होती जा रही है इसलिए प्रेमलाल जी ने समूण फाउंडेशन से मदद की गुहार लगाई है । कहते हैँ कि किसी भूखे को रोटी खिलाना बहुत पुण्य का काम है, लेकिन उससे भी पुण्य का काम है उसे रोटी कमाने का तरीका सिखाना जाय। अगर आप किसी को रोटी खिलाते हैं तो उसका पेट एक दिन के लिए भरेगा, लेकिन अगर किसी को रोटी कमाने का तरीका सिखा देते हैं तो वो जीवन भर अपना पेट भर सकता है। इसी को मध्यनजर रखते हुए समूण फाउंडेशन ने प्रेमलाल जी के लिए गाँव मे ही एक प्रचुन की दुकान खोलने का निर्णय लिया है ताकि  इस दुकान से जो भी आमदनी हो उससे प्रेमलाल जी अपने परिवार का भरण पोषण कर सकेँ । और इस काम मे परिवार के सदस्य भी प्रेमलाल जी का साथ दे सकते हैँ ।

बहुत जल्द समूण फाउंडेशन प्रेमलाल जी के लिए उनके गाँव मे एक परचुन की दुकान खोलने जा रहे हैँ, इस नेक कार्य हेतु यदि आप भी प्रेमलाल जी जैंसे अति निर्धन परिवार की मदद करना चाहते हैँ तो आपका स्वागत है, आप निम्नलिखित समूण एकाउंट मे अपनी सहायता राशी भेज सकते हैँ । 

  AXIS BANK

A/C NUMBER : 914010040541847

A/C NAME : SAMOON FOUNDATION

BRANCH : CITY CENTRE RISHIKESH

IFSC CODE : UTIB0000156

PAYTM/G-PAY: 6395436883  

यदि आप प्रेमलाल जी के परिवार से बात करना चाहते हैँ तो समाज सेवी श्री विशाल नैथानी जी के नो. 9557331270  पर फोन करके कर सकते हैँ

समूण परिवार

मानवता की सेवा हेतु समर्पित

Help Premlal to open a grocery shop for his family's livelihood
Other Document
Help Premlal to open a grocery shop for his family's livelihood
Other Document
Help Premlal to open a grocery shop for his family's livelihood
Other Document
Help Premlal to open a grocery shop for his family's livelihood
Other Document
Help Premlal to open a grocery shop for his family's livelihood
Other Document

Subscribe
Our Newsletter

Donate Now